गोरखपुर:मानवता शर्मसार; जंक्‍शन पर बेटे का शव लेकर दो घंटे तड़पती रही मां

  • 22 May,2019
  • 258 Views
गोरखपुर:मानवता शर्मसार; जंक्‍शन पर बेटे का शव लेकर दो घंटे तड़पती रही मां

गोरखपुर: मां की तड़प और उसकी दर्द को यहां सभी ने अनदेखा कर दिया। किसी ने संवेदना भी जताने को जहमत न उठाई। जीआरपी भी सूचना मिलने के दो घंटे बाद पहुंची। बेबस मां अपने हाथों में बेटे का शव लेकर तड़प रही थी। भाई भी लाचार अपने भाई के शव को देख बिलख रहा था। रोंगटे खड़े कर देना वाला यह मंजर था रेलवे स्टेशन पर। यहां एक 16 वर्षीय पीपीगंज के रहने वाले अंकित कुमार की प्लेटफार्म नम्बर पांच पर शाम सवा पांच बजे ट्रेन के इंतजार के दौरान मौत हो गई।

जीआरपी को 300 मीटर की दूरी तय करने में लग गए दो घंटे

 

16 साल के किशोर की स्टेशन पर हो गई मौत
पीपीगंज से गोरखपुर आया थो परीक्षा का सेंटर पता करने
लौटते वक्त स्टेशन पर हुई घटना
जब उसकी मौत हुई तो उसके साथ घर का कोई न था। दूसरे यात्रियों ने यात्री मित्र को सूचना दी तो उसके शव को यात्री मित्र कार्यालय पर लाया गया। रेलवे अस्पताल से पहुंचे चिकित्सकों ने पड़ताल के बाद किशोर के मौत की पुष्टि कर दी। अंकित की मोबाइल से इसकी सूचना घर वालों को दी गई तो वह बदहवास हो गए। एक घंटे में उसका भाई और मां स्टेशन पर पहुंच गए। छोटे बेटे का शव देख मां बेसुध हो गई। उसे सीने लगाकर बिलखने लगी। बड़े भाई ने शव को घर ले जाने की बात कही तो वहां के कर्मचारियों ने कागजी कार्रवाई की बात कह कर रोक दिया।

 

 

जीआरपी को साढ़े सात बजे ही इसकी सूचना दे दी गई लेकिन जीआरपी को महज 250 मीटर की दूरी तय करने में दो घंटे का वक्त लग गया। करीब साढ़े नौ बजे पहुंची जीआरपी की टीम शव को थाने पर ले आई कागजी कार्रवई शुरू कर दी।

 

बड़े भाई ने बताया कि उसका छोटा भाई अंकित सुबह 10 बजे गोरखपुर में पॉलीटेक्टिन परीक्षा के लिए सेंटर देखने आया था।

 

सबकुछ हो जाने के बाद उसने 4 बजे फोन कर बताया कि वह पांच बजे की मेमू ट्रेन से आएगा। इसके बाद यहां फोन करना शुरू किया गया तो फोन ही नहीं उठा। उसके बाद स्टेशन से फोन आया कि अंकित की मौत हो चुकी है। यह हैरान करने वाला है क्योंकि उसे कोई बीमारी नहीं थी।

Author : Ashok Chaudhary

Share With

Tag With

आपके लिए

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING