गोरखपुर के रेल यांत्रिक कारखाने में लगा सायरन पूरी मुस्तैदी के साथ पिछले 116 सालों से कर्मचारियों को ‘राइट टाइम’ कर रहा है

  • Line : TVL Team
  • 06 August,2019
  • 69 Views
गोरखपुर के रेल यांत्रिक कारखाने में लगा सायरन पूरी मुस्तैदी के साथ पिछले 116 सालों से कर्मचारियों को ‘राइट टाइम’ कर रहा है

गोरखपुर: सुबह कर्मचारियों को जगाने, समय से दफ्तर बुलाने, 11.45 बजे लंच के लिए अलर्ट करने व शाम को घर भेजने की जिम्मेदारी बखूबी संभाल रहा है। इन सालों में न तो सायरन की आवाज बदली और न ही कभी बंद हुई।

 

 

1903 में रेलवे वर्कशॉप में स्थापित कर्मचारियों को बुलाने के लिए लगा सायरन पहले सुबह सात बजे अलर्ट देता है। यह सायरन कर्मचारियों के उठने व तैयार होने के लिए होता है। दूसरा सायरन 7:15 बजे कर्मचारियों के तैयार होने व समय से वर्कशॉप पहुंचने को लेकर अलर्ट करता है। वर्कशॉप पहुंचने और काम शुरू होने के बाद ठीक 11:45 बजे लंच के लिए सायरन बजता है। लंच खत्म होने का सायरन ठीक 12:45 बजे बजता है। इसके बाद कर्मचारी दोबारा काम में जुट जाते हैं। इसके बाद 4:45 बजे अंतिम बार सायरन की आवाज सुनाई देती है। यह कर्मचारियों को घर जाने के लिए होता है।

 

चार किमी तक सुनाई देती है आवाज :-

 

सायरन की आवाज कितनी बुलंद है, इसका अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि वर्कशॉप से करीब चार किलोमीटर दूर रामगढ़ झील रेलवे कॉलोनी तक इसकी आवाज साफ सुनाई देती है। इसकी आवाज सुनकर बिछिया, बौलिया, जटेपुर और कृष्णानगर रेलवे कॉलोनी में रहने वाले वर्कशॉप के कर्मचारियों ड्यूटी पर निकल जाते हैं।

 

सायरन के लिए तैनात हैं 16 कर्मचारी:-

सायरन बजाने और इसके मेंटीनेंस के लिए एक एसएससी समेत 16 स्टाफ तैनात हैं। इसमें शिफ्ट के हिसाब से ड्यूटी लगती रहती है। ये कर्मचारी सायरन बजाने, मेंटीनेंस, बिजली संबंधी काम व उस दफ्तर की देख-रेख की जिम्मेदारी संभालते हैं। यहां एसएससी के रूप में तैनात इंतजामी यादव बताते हैं कि सायरन पूरी क्षमता से अपना काम करता है। आजतक कभी ऐसा नहीं हुआ कि सायरन अपने तय समय पर न बजा हो।

 

कई घरों में सायरन से ही मिलाई जाती है घड़ी

जानकर यह हैरानी जरूर होगी कि वर्कशॉप में काम करने वाले 60 फीसदी कर्मचारी घड़ी से समय न देखकर सायरन की आवाज से ही समय का आकलन करते हैं और उसी के हिसाब से अपनी दिनचर्या चलाते हैं। आज भी कई घरों में घड़ी अगर बंद हो जाए तो उसका समय सायरन बजने पर ठीक किया जाता है।

Tag With

आपके लिए

You may like

Follow us on

आपके लिए

TRENDING