झारखंड / नक्सलियों के आईईडी धमाके में 11 जवान जख्मी, 3 की स्थिति गंभीर; एयरलिफ्ट कर रांची लाए गए

  • 28 May,2019
  • 159 Views
झारखंड / नक्सलियों के आईईडी धमाके में 11 जवान जख्मी, 3 की स्थिति गंभीर; एयरलिफ्ट कर रांची लाए गए

नई दिल्ली: झारखंड के सरायकेलाखरसावां में नक्सलियों ने मंगलवार सुबह आईईडी धमाका किया। इसमेंपुलिस और 209 कोबरा के 11जवान घायल हो गए। तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने घटना की पुष्टि की है। ब्लास्ट के बाद नक्सलियों ने जवानों पर फायरिंग भी की।जानकारी के मुताबिक, राय सिंदरी पहाड़ पर नक्सलियों ने ब्लास्ट किया। घायल जवानों को सेना के हेलिकॉप्टर द्वारा एयरलिफ्ट कर रांची केअस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

 

डीजीपी डीके पांडे ने बताया कि नक्सलियों ने यह आईईडी चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने के लिए लगाए थे। कोबरा, झारखंड जगुआर और झारखंड पुलिस के संयुक्त अभियान ने इलाके को सुरक्षित कर लिया है। इस घटना में 11 जवान जख्मी हुए, जिनमें तीन की हालत गंभीर है।

 

 

 

सर्च ऑपरेशन के दौरान हुआ हादसा
अफसरों के मुताबिक, सीआरपीएफ की विशेष टीम कोबरा और झारखंड जगुआर के जवान सुबह लॉन्ग रेंज पेट्रोलिंग (एलआरपी) से लौट रहे थे। इसी दौरान यह ब्लास्ट हुआ। फिलहाल, मौके पर भारी संख्या में जवानों को तैनात किया गया है।

 

 

गढ़चिरौली में हुए थे 15 जवान शहीद
महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में 30 अप्रैल को हुए नक्सली हमले में पुलिस के 15 जवान शहीद हो गए थे। हमले में बस ड्राइवर की भी मौत हुई थी। इससे पहले इसी इलाके में नक्सलियों ने रोड निर्माण में लगे 30 वाहनों को आग लगा दी थी। नक्सली हमला कुरखेड़ा से छह किमी दूर कोरची मार्ग पर हुआ था। महाराष्ट्र पुलिस के जवान निजी बस से गढ़चिरौली की ओर जा रहे थे। यह इलाका महाराष्ट्र-छत्तीसगढ़ सीमा पर है।

 

 

शहीद जवान सी-60 फोर्स के कमांडो थे
शहीद हुए जवान पुलिस की सी-60 फोर्स के कमांडो थे। इस फोर्स में 60 जवान होते हैं। इसका गठन 1992 में गढ़चिरौली के तत्कालीन एसपी केपी रघुवंशी ने किया था। इस फोर्स के कमांडो नक्सल विरोधी अभियानों के लिए ही प्रशिक्षित किए जाते हैं। ये गुरिल्ला युद्ध में माहिर होते हैं।

 

 

 

 

 

Author : Ashok Chaudhary

Share With

आपके लिए

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING