बस्ती: पीले हाथ हुए सूने, पिता के घर लौटी बेटी मामला गौर थाना क्षेत्र

  • 12 June,2019
  • 361 Views
बस्ती: पीले हाथ हुए सूने, पिता के घर लौटी बेटी मामला गौर थाना क्षेत्र

बस्ती: जिस बेटी को सुबह डोली में बिठाकर नम आंखों व आशीष के गीत गाते हुए विदा किए, मां ने लाखों आशीष दिए, पिता ने माथा चूमकर सदा सुखी रहने का आशीर्वाद दिया, उसी बेटी का सुहाग रात में उजड़ गया।

 

 

दामाद की मौत की सूचना पर बदहवास पिता राम महेश गोंड जब बेटी उर्मिला की ससुराल पहुंचे तो खुद को संभालना मुश्किल था। बेटी की हालत देख उसका हाथ पकड़ा और घर उठा लाए। वह यह सोच भी नहीं पा रहे थे कि मेहंदी व महावर का रंग उतरने से पहले ही उर्मिला की मांग सूनी हो गई है। घर पर हर कोई एक दूसरे को झूठा दिलासा देने की कोशिश कर रहा है।

 

 

गौर थाना क्षेत्र के दुबौलिया गांव निवासी राम महेश गोंड की बेटी उर्मिला की शादी आठ जून को कप्तानगंज थाना क्षेत्र के महुलानी बुजुर्ग निवासी कांशीराम के बेटे प्रदीप के साथ हुई थी। दस जून की सुबह प्रदीप, उर्मिला का गौना करा कर घर ले गए थे। उर्मिला की मां अनीता घर आने वाले हर किसी को देखते ही फफक पड़ती हैं। उधर महुलानी बुजुर्ग गांव के बाहर स्थित काशीराम के घर पर सोमवार को नई बहू के आने की खुशी में शाम को भोज दिया गया था। इसी बीच प्रदीप के साथ हुए हादसे की सूचना मिली तो परिवार पर विपत्ति का पहाड़ टूट पड़ा।

Author : Ashok Chaudhary

Share With

आपके लिए

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING