loading...

अयोध्‍या में चप्पे-चप्पे पर किए गए पुलिस बल तैनात, बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी को मिली धमकी

  • 06 December,2018
  • 71 Views
अयोध्‍या में चप्पे-चप्पे पर किए गए पुलिस बल तैनात, बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी को मिली धमकी

अयोध्या मे चल रहे राम मंदिर निर्माण विवाद को लेकर कोई ना कोई खबर सुनने को मिलती है, ऐसे मे आज 6 दिसंबर को अयोध्या मे बाबरी मस्जिद के विध्वंश की 26वीं वर्षगाँठ के दौरान आयोध्या मे चप्पे-चप्पे पर पुलिस अधिकारियो ने नकबंदी लगा रखी है| इस दौरान पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने रामनगरी का भ्रमण कर सुरक्षा व्यवस्था का भी जायजा लिया। पुलिस द्वारा अयोध्या में आने वाले सभी वाहनों की चेकिंग करने के बाद ही उन्हे नगरी में प्रवेश करने दिया जा रहा है। पुलिस ने निगरानी के लिए जिले की सीमा पर भी अलग से टीम लगाई हुई है। पुलिस ने बाहरी लोगों की निगरानी के लिए अयोध्या नगर ही नहीं बल्कि फैजाबाद शहर के भी होटलो व गेस्ट हाउस संचालकों से संपर्क कर सुरक्षा के निर्देश जारी किए गए हैं। संवेदनशील स्थानों पर पुलिस की लगातार गश्त जारी है।

 

 

 

 

पुलिस प्रशासन ने नगर मे धारा 144 लागू कर दी है, रामलला का दर्शन सुचारू रहेगा, लेकिन भीड़ अथवा नारेबाजी करते हुए परिसर की ओर जाने पर रोक लगाई गई है। खबरो के अनुसार बताया जा रहा है कि अयोध्या में बड़ी संख्या में फोर्स की तैनाती की गई है। प्रमुख मंदिरों की ओर जाने वाले रास्ते और बाजार में पुलिस ने बम निरोधक दस्ते व डॉग स्क्वायड के माध्यम से चेकिंग कराई। सीओ अयोध्या राजू कुमार साव का कहना है कि हमे खबर मिली है कि किसी व्यक्ति ने मंगलवार को देर शाम बाबरी मस्जिद मुकदमे के मुद्दई इकबाल अंसारी के कोटिया स्थित आवास के पते पर स्पीड पोस्ट के माध्यम से एक धमकी भरा पत्र भेजा जिसमे पत्र भेजने वाले ने अपना नाम लालू यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष राजद बिहार पटना बताया है|

 

 

 

इकबाल अंसारी को भेजे गये इस पत्र में ना सिर्फ उनसे मुकदमा वापस लेने को कहा गया है, बल्कि ऐसा ना करने पर उन्हे जान से मरने की भी धमकी दी गई है| हम आपको बता दे कि इस पत्र मे उस व्यक्ति ने अधिवक्ता जफरयाब जिलानी के नाम लिया है| पत्र लिखने वाले ने लिखा है कि रामजन्म भूमि हिंदुओं की है और वहां पर भगवान राम का ही मंदिर बनेगा| मुसलमानों को उस जगह से अपना दावा छोड़ देना चाहिए और अगर इकबाल अंसारी ने अपना दावा नहीं छोड़ा तो उन्हें जान से मार दिया जाएगा| इकबाल अंसारी ने इस पूरे मामले का खुलासा करते हुए बताया कि यह पत्र उन्हें मंगलवार की देर शाम प्राप्त हुआ| इकबाल ने पत्र के बारे में मीडिया सहित खुफिया विभाग के लोगों को जानकारी दी है| यह पहला मौका नहीं है, जब इकबाल अंसारी को धमकी मिली है। पिछले माह भी उन्हें अमेठी के निवासी सूर्यप्रकाश सिंह ने एक पत्र भेजकर ऐसी ही धमकी दी थी। जिसमे पुलिस ने कार्यवाई करते हुए सूर्यप्रकाश के खिलाफ अभियोग पंजीकृत कर उसे गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था।

 

 

Author : Ankit Gupta
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

Loading...

आपके लिए

TRENDING