छत्तीसगढ़ मे भी मुख्यमंत्री की कुर्सी के कई दावेदार

  • 12 December,2018
  • 245 Views
छत्तीसगढ़ मे भी मुख्यमंत्री की कुर्सी के कई दावेदार

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने बंपर जीत हासिल की है। इस राज्य में कांग्रेस इतनी बड़ी जीत हासिल करेगी, इसकी उम्मीद शायद किसी को नहीं थी। विधानसभा की 90 सीटों में से कांग्रेस ने 68 सीटों पर कब्जा जमाते हुए चौथी बार मुख्यमंत्री बनने के रमन सिंह की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। सत्ताधारी भाजपा यहां महज 15 सीटों पर सिमट गई। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा का यह चौथा चुनाव है। इससे पहले तीन चुनावों में भारतीय जनता पार्टी जीत हासिल कर पिछले 15 वर्षों से सत्ता में है। वहीं कांग्रेस को लगातार हार का सामना करना पड़ा है।

 

 

 

 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी  छत्तीसगढ़ में पार्टी को मिली बहुमत का सारा श्रेय पार्टी कार्यकर्ताओं को दे रहे हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं को ‘महत्वपूर्ण’  होने का एहसास दिलाने के लिए राहुल गांधी ने एक नायाब तरीका भी ढूंढ निकाला है। इसलिए उनका फोन प्रदेश के एक-एक कार्यकर्ता के पास पहुंच रहा है जिनसे वह पसंदीदा मुख्यमंत्री का नाम पूछ रहे हैं। बता दें कि प्रदेश के कई नामचीन चेहरे मुख्मंत्री पद के प्रबल दावेदार हैं, जिनमें मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू और डॉ चरणदास महंत का नाम अव्वल है।

 

 

 

 

राहुल के फोन आने की पुष्टि प्रदेश प्रवक्ता शैलेष नितिन त्रिवेदी ने करते हुए कहा कि, हां, राहुल गांधी का फोन कार्यकर्ताओं को पहुंच रहा है और उनसे मुख्यमंत्री के नाम के बारे में जानने की कोशिश की जा रही है। ऐसा कांग्रेस पार्टी क्यों कर रही है के जवाब में उन्होंने कहा कि यह पार्टी का आंतरिक मामला है, लेकिन मैं यह बता देना चाहता हूं कि हमारी पार्टी के लिए कार्यकर्ता अहम हैं। मुख्यमंत्री के चयन में उनकी अहम भूमिका होनी चाहिए।

 

 

 

 

सीएम की कुर्सी के कई दावेदार

 

डॉ. चरणदास महंत
महंत मध्यप्रदेश सरकार में गृहमंत्री और यूपीए-2 में राज्य मंत्री रह चुके हैं। पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने उन्हें मुख्यमंत्री पद का दावेदार बताया था।

 

 

 

 

ताम्रध्वज साहू
मोदी लहर के बीच 2014 लोकसभा चुनाव में वो छत्तीसगढ़ से कांग्रेस के अकेला चेहरा थे जो चुनाव जीतने में कामयाब रहे थे। जातिगत राजनीति के मद्देनजर उनकी वर्ग विशेष में खासी पहुंच है। वह कांग्रेस की ओबीसी विंग के अध्य़क्ष है। दुर्ग ग्रामीण से ताम्रध्वज – 76208 वोटों से जीते

 

 

 

टीएस सिंहदेव

टीएस सिंहदेव भी सीएम की कुर्सी के दावेदार बताए जा रहे हैं वह अंबिकापुर सीट से मैदान में उतरे हैं। 2013 से वो नेता विपक्ष की भूमिका में हैं। इस बार वो घोषणापत्र समिति के अध्यक्ष थे। वो राहुल गांधी के करीबी भी माने जाते हैं। उनकी छत्तीसगढ़ की जनता में एक पहचान भी है।

 

 

 

 

 

भूपेश बघेल

बघेल मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं और नेताओं में दम फूंकने का काम किया है और उन्हें अब इनाम का इंतजार है। वैसे विवादों से उनका पुराना नाता रहा है। सीडी कांड में जेल जाने के बावजूद वो लड़ते रहे, भाजपा पर हमलावर बने रहे। बघेल को ओबीसी का बड़ा नेता माना जाता है। छत्तीसगढ़ में ओबीसी की आबादी करीब 36 फीसदी है।

 

 

 

 

 

 

Author : kapil patel

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING