loading...

गोंडा: छात्रों को ज़मीन पर धूल में बैठकर पढ़ाई करने से मिली निजात

  • 05 December,2018
  • 135 Views
गोंडा: छात्रों को ज़मीन पर धूल में बैठकर पढ़ाई करने से मिली निजात

गोंडा: बेसिक शिक्षा विभाग के उच्च प्राथमिक विद्यालयों मे जमीन पर धूल-मिट्टी मे बैठकर पढ़ाई करने वाले छात्रों को अब इससे निजात मिलने जा रही है। हम आपको बता दे कि बेसिक शिक्षा विभाग अब यहां तकरीबन 90 स्कूलों में बेंच मुहैया कराने जा रही है। खबरो से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि प्रति स्कूल बेंच मुहैया कराने के लिए तकरीबन 1.56 लाख रुपये खर्च किए गए हैं। हालांकि, शिक्षा विभाग द्वारा बेंचो को मुहैया कराने मे देरी ज़रूर की गई है, परंतु अब बच्चों को धूल में बैठने से निजात मिल जाएगी। हम आपको बता दे कि बच्चों को धूल में जमीन पर बैठ कर पढ़ाई से निजात दिलाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूलों में विभाग ने बेंच मुहैया कराने के लिए शासन को एक प्रस्ताव भेजा था। शासन ने 16 ब्लॉकों के 90 उच्च प्राथमिक विद्यालयों में बेंच की आपूर्ति के लिए धनराशि आवंटित की थी तथा संस्था का चयन कर स्कूलों में सप्लाई की जिम्मेदारी विभाग को दी गई थी। बेसिक शिक्षा विभाग के अनुसार जुलाई तक स्कूलों को बेंच आ जानी थी लेकिन, इसमें देरी हुई। हालांकि, अब स्कूलों में बेंच भेजी जा रही है।

 

 

 

बेसिक शिक्षा विभाग का कहना है कि सरकार द्वारा स्कूलो मे बेंच मुहैया कराने से अब छात्रों को धूल में नहीं बैठना पड़ेगा, जिससे वह काफ़ी प्रसन्न है। हम आपको बता दे कि धानेपुर, परसपुर, तरबगंज, वजीरगंज, म़नकापुर ब्लॉकों के स्कूलों मे बेंचो की आपूर्ति कर दी गई है। वहीं, इटियाथोक के कुछ स्कूलों में भी बेंच की आपूर्ति हुई है। बेसिक शिक्षा अधिकारी मनिराम सिंह ने कहा कि अभी कुछ और ब्लॉक्स मे बेंचो का मुहैया कराना बाकी है जहाँ छात्र अभी भी जमीन पर बैठकर पढ़ाई कर रहे हैं। बेसिक शिक्षा के अधिकारी मनिराम सिंह का कहना है कि छात्रों के बैठने के लिए कई ब्लोको मे बेंच की आपूर्ति की जा रही है, जिससे की छात्रों को ज़मीन पर बैठ कर पढ़ाई करने से आराम मिलेगा।

 

 

Author : Ankit Gupta
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

Loading...

आपके लिए

TRENDING