loading...

गोरखपुर: महाराणा प्रताप संस्थापक समारोह मे बोले छत्तीसगढ़ के सीएम डॉ. रमन सिंह, “देश के लिए बड़ी कुर्बानी को तैयार हों युवा”

  • 05 December,2018
  • 148 Views
गोरखपुर: महाराणा प्रताप संस्थापक समारोह मे बोले छत्तीसगढ़ के सीएम डॉ. रमन सिंह, “देश के लिए बड़ी कुर्बानी को तैयार हों युवा”

गोरखपुर: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह अपनी पत्नी वीणा सिंह के साथ मंगलवार 04 दिसंबर को गोरखपुर मे महाराणा प्रताप इंटर कालेज परिसर में आयोजित महाराणा प्रताप संस्थापक समारोह मे पहुँचे| इस दौरान मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने महाराणा प्रताप इंटर कालेज परिसर में आयोजित महाराणा प्रताप संस्थापक समारोह मे युवाओं को नसीहत दी और कहा कि देश के युवाओ को महाराणा प्रताप के व्यक्तित्व व कृतित्व से प्रेरणा लेकर देश के लिए बड़ी से बड़ी कुर्बानी के लिए तैयार रहने चाहिए| उन्होंने कहा कि महाराणा प्रताप का जीवन हमे देश के स्वाभिमान की रक्षा के लिए बड़ी से बड़ी कुर्बानी देने की प्रेरणा देता है। हम आपको बता दे कि डॉ. रमन सिंह मंगलवार 04 दिसंबर को महाराणा प्रताप इंटर कालेज परिसर में आयोजित महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद के संस्थापक सप्ताह समारोह के उद्घाटन समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे|

 

 

 

समारोह के दौरान डॉ. रमन सिंह ने पूर्वाचल के शैक्षिक विकास में शिक्षा परिषद के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि ब्रिटिश राज में राष्ट्र प्रेम, शिक्षा का प्रसार और जीवन मूल्यों का संरक्षण एक चुनौतीपूर्ण कार्य था, जिसे महंत दिग्विजयनाथ ने पूरा करके दिखाया। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि महंत दिग्विजयनाथ ने महाराणा प्रताप के नाम पर शिक्षा परिषद का गठन कर देश के स्वाभिमान और आजादी की रक्षा के लिए एक शानदार आदर्श प्रस्तुत किया। इस दौरान डॉ. रमन सिंह ने महंत दिग्विजयनाथ की तुलना मदन मोहन मालवीय से की और कहा कि महंत ने मालवीय जी के प्रयास को आगे बढ़ाते हुए देश की संस्कृति और परंपरा को संरक्षित करने के लिए कार्य किया। समारोह के दौरान डॉ. रमन सिंह ने इस समय प्रदेश में बैठी योगी सरकार के कार्याें की जमकर सराहना करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री योगी की अगुवाई मे प्रदेश सरकार ने कई उपलब्धियों और ऊंचाइयों के नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश मे पहले के मुक़ाबले किसानों की दशा में काफ़ी सुधार हुआ है तो औद्योगीकरण को भी काफ़ी बढ़ावा मिला है। कानून व्यवस्था में सुधार से प्रदेश नव निर्माण की राह में आगे बढ़ रहा है।

 

 

 

 

डॉ. रमन सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का प्रयास देश के अन्य मुख्यमंत्रियों को सीख देने वाला है। डॉ. रमन सिंह ने खुद को अयोध्या से जोड़ते हुए कहा कि वह भगवान राम के ननिहाल यानी माता कौशल्या की नगरी से आए है, जिससे कि उन्हें उत्तर प्रदेश में अपनेपन का अहसास हो रहा है। इसी क्रम में वह अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाना भी नहीं भूले। उन्होने बताया कि जब 15 वर्ष पहले उन्होंने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री की कमान संभाली तो प्रदेश को पिछड़ा और पलायन करने वाला प्रदेश कहा जाता था, परंतु अब यह एक विकसित छत्तीसगढ़ के रूप में पहचाना जाता है।

 

 

 

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए बताया कि आज देश के 22 फीसद स्टील का उत्पादन अकेले छत्तीसगढ़ करता है तो साथ मे देश के 16 फीसद सीमेंट और 18 फीसद अल्यूमिनियम को तैयार करने का श्रेय भी छत्तीसगढ़ को ही जाता है। इस दौरान मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने समारोह मे मौजूद छात्रो को संबोधन करते हुए बताया कि वह पहली बार गोरखपुर आए हैं और पहली बार उन्हें गुरु गोरक्षनाथ के दर्शन-पूजन का अवसर मिला है। दर्शन-पूजन के बाद उन्हें अद्भुत ऊर्जा, शक्ति और प्रताप की अनुभूति हुई है। उन्होंने यह भी साझा कि गुरु गोरक्षनाथ से उन्होंने अपने राज्य की ढाई करोड़ जनता की तरक्की के लिए दुआ मांगी है।

 

 

Author : Ankit Gupta
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

Loading...

आपके लिए

TRENDING