इसरो के पूर्व वैज्ञानिक नंबी नारायण को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, 50 लाख रूपए मुआवजा देने का निर्देश

  • 14 September,2018
  • 286 Views
इसरो के पूर्व वैज्ञानिक नंबी नारायण को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, 50 लाख रूपए मुआवजा देने का निर्देश

जासूसी कांड के आरोप से दोषमुक्त हुए इसरो के पूर्व वैज्ञानिक नंबी नारायण को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है| कोर्ट ने नंबी नारायण को 50 लाख रुपये मुआवज़ा देने का आदेश दिया है. वैज्ञानिक को झूठे केस में फंसाने के मामले में केरल के पुलिस अफ़सरों की भूमिका की जांच को लेकर न्यायिक कमेटी के गठन का आदेश दिया है|देश की सबसे बड़ी अदालत ने टिप्पणी की है कि 1994 के जासूसी कांड में इसरो के पूर्व वैज्ञानिक नंबी नारायणन को ‘अनावश्यक रूप से गिरफ्तार करके परेशान किया गया है|

 

इसके साथ ही न्यायालय ने इस मामले में संलिप्त केरल पुलिस के अधिकारियों के खिलाफ जांच के आदेश दिये हैं| प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्ययमूर्ति एएम खानविलकर और न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चन्द्रचूड़ की पीठ ने इसके साथ ही 76 वर्षीय नंबी नारायणन को इस मामले में मानसिक यातनाओं के लिये 50 लाख रूपए मुआवजा देने का निर्देश दिया|

 

पीठ के आदेशानुसार केरल सरकार को आठ सप्ताह के भीतर इसरो के पूर्व वैज्ञानिक को मुआवजे की इस राशि का भुगतान करना है| पीठ ने इसके साथ ही जासूसी कांड में वैज्ञानिक नारायणन को फंसाने की घटना की जांच के लिये शीर्ष अदालत के पूर्व न्यायाधीश डी के जैन की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय दल गठित किया है. नारायणन ने केरल हाईकोर्ट उस फैसले को शीर्ष अदालत में चुनौती दी थी जिसमें उसने कहा था कि राज्य के पूर्व पुलिस महानिदेशक सिबी मैथ्यू और सेवानिवृत्त पुलिस अधीक्षक केके जोशुआ और एस विजयन के खिलाफ किसी कार्रवाई की आवश्यकता नहीं है|

Author : kapil patel

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING