ICC CWC 2019 : भारत को विश्व कप के सेमीफाइनल में हराने वाली टीम जीतती है खिताब

  • Author : TVL Team
  • 11 July,2019
  • 90 Views
ICC CWC 2019 : भारत को विश्व कप के सेमीफाइनल में हराने वाली टीम जीतती है खिताब

नई दिल्ली: आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 में भारतीय टीम का सफर सेमीफाइनल में पहुंचकर समाप्त हो गया है। न्यूजीलैंड ने भारत को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में 18 रन के अंतर से हराकर टूर्नामेंट से बाहर कर दिया। न्यूजीलैंड ने भारत को सिर्फ सेमीफाइनल में ही नहीं हराया है बल्कि अपने लिए पहली बार विश्व कप खिताब जीतने का रास्ता भी खोल दिया है। अगर पुराना इतिहास ही कायम रहा तो न्यूजीलैंड इस बार विश्व खिताब जीतेगा। न्यूजीलैंड ने वर्षा बाधित मैच में भारत के सामने जीत के लिए 50 ओवरों में 240 रन का लक्ष्य रखा था। लेकिन भारत की पूरी टीम 49.3 ओवरों में 221 रन बनाकर आउट हो गई। बारिश के कारण यह मैच दो दिनों तक खिंचा। अंत में न्यूजीलैंड ने बाजी मार ली।

 

आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में न्यूजीलैंड की टीम का इतिहास

1975 विश्व कप: वेस्टइंडीज ने सेमीफाइनल में हराया।
1979 विश्व कप: इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में हराया।
1992 विश्व कप: पाकिस्तान ने सेमीफाइनल में हराया।
1999 विश्व कप: पाकिस्तान ने सेमीफाइनल में हराया।
2007 विश्व कप: श्रीलंका ने सेमीफाइनल में हराया।
2011 विश्व कप: श्रीलंका ने सेमीफाइनल में हराया।
2015 विश्व कप: ऑस्ट्रेलिया ने फाइनल में हराया।
2019 विश्व कप: फाइनल 14 जुलाई को लाॅर्ड्स में होना है।

 

 

भारत को जो टीम विश्व कप सेमीफाइनल में हराती है खिताब भी उसी का होता है
दरअसल, आईसीसी विश्व कप में यह संयोग चला आ रहा है कि जो भी टीम भारत को सेमीफाइनल में हराती है आगे चलकर वही खिताब भी जीतती है। यह 1996 और 2015 में खेले गए आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में हो चुका है। भारतीय टीम विश्व कप के इतिहास में 1983, 2003 और 2011 में फाइनल में पहुंची है। जिसमें से दो बार 1983 और 2011 में उसने खिताब जीता है। साल 2003 के विश्व कप फाइनल में उसे ऑस्ट्रेलिया के हाथों 125 रन के अंतर से हार का सामना करना पड़ा था। भारतीय टीम आज तक कुल तीन बार विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचकर हारी है। जिसमें पहली बार उसे 1987 में इंग्लैंड के हाथों 35 रन से हार मिली थी। यही पहला मौका था जब भारत को विश्व कप के सेमीफाइनल में हा मिली थी।

 

यह चौथी मर्तबा है जब भारतीय टीम को विश्व कप के सेमीफाइनल में हार मिली है
लेकिन इंग्‍लैंड टीम विश्व कप खिताब जीतने में नाकाम रही थी। साल 1987 के विश्व कप के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को फाइनल में हराकर खिताब जीता था। लेकिन इसे बाद भारतीय टीम दो बार विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंची और दोनों ही बार उसे हार का सामना करना पड़ा। हालांकि, इन दो मौकों पर भारत को जिस टीम ने सेमीफाइनल में हराया उसी ने विश्व कप खिताब भी जीता। दूसरी बार भारतीय टीम 1996 के विश्व कप में सेमीफाइनल में पहुंचकर हारी थी। इस बार उसका रास्ता श्रीलंका ने रोका था। श्रीलंकाई टीम ने ही 1996 के विश्व कप का खिताब भी जीता था। उसने फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 7 विकेट से हराया था। भारत 2015 में खेले गए विश्व कप के सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों 90 रन से हारा था। इस विश्व कप के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को हराकर पांचवीं बार खिताब अपने नाम किया।

 

न्यूजीलैंड की टीम विश्‍व कप में कई बार सेमीफाइनल और 1 बार फाइनल में हार चुकी है

इस तरह भारतीय टीम के साथ दो बार से यह ट्रेंड चला आ रहा है कि विश्व कप के सेमीफाइनल में उसे जो टीम हराती है वही खिताब भी जीतती है। अगर इस संयोग को देखें तो इस बार का खिताब न्यूजीलैंड के नाम दर्ज हो सकता है। यह भी हो सकता है कि न्यूजीलैंड की स्थिति 1987 इंग्लैंड जैसी हो जाए। न्यूजीलैंड की टीम फाइनल जीतती है तो यह उसका पहला विश्व कप खिताब होगा। इससे पहले न्यूजीलैंड की टीम 6 बार विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंची है और हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो चुकी। वह एक बार फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार चुकी है। शायद इस बार भारत को सेमीफाइनल में हराना न्यूजीलैंड के लिए भाग्यशाली साबित हो और वह पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बनने का तमगा हासिल कर सके।

आपके लिए

You may like

Follow us on

आपके लिए

TRENDING