राजौरी के IED ब्‍लास्‍ट में देहरादून के मेजर शहीद, 7 मार्च को होनी थी शादी

  • 16 February,2019
  • 289 Views
राजौरी के IED ब्‍लास्‍ट में देहरादून के मेजर शहीद, 7 मार्च को होनी थी शादी

राजौरी: जम्मू-कश्मीर (J&K) के पुलवामा में हुए हमले को अभी पूरे दो दिन भी नहीं बीते थे कि राजौरी के नौशेरा में आतंकियों ने एक और हमले को अंजाम दिया है। जम्मू-कश्मीर में एलओसी पर शनिवार को राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान की बार्डर एक्शन टीम (बैट) की ओर से बिछाई गई आईईडी को डिफ्यूज करते समय हुए विस्फोट में सेना के मेजर शहीद हो गए हैं।

 

 

उत्तराखंड में देहरादून के मेजर चित्रेश सिंह बिष्ट, जिन्होंने राजौरी के नौशेरा सेक्टर में एलओसी के पार आतंकवादियों द्वारा लगाए गए एक आईईडी को डिफ्यूज करते हुए आज अपनी जान गंवा दी। नौशेरा सेक्टर में ट्रैक की सफाई के दौरान ट्रैक पर खानों का पता चला|

 

 

राजौरी के नौशेरा सेक्टर में बम डिस्पोजल टीम का नेतृत्व करने वाले मेजर चित्रेश सिंह बिष्ट ने एक खदान को सफलतापूर्वक नष्ट कर दिया। एक अन्य खदान को बेअसर करते हुए, उपकरण सक्रिय हो गया और अधिकारी को गंभीर चोटें आईं और उनकी जान चली गई।

 

 

बताया जा रहा है कि सात मार्च को मेजर चित्रेश की शादी होनी थी। शहीद चित्रेश के पिता उत्तराखंड पुलिस में इंस्पेक्टर के पद पर थे। जो दो साल पहले ही रिटायर हुए हैं। विस्फोट में इसके अलावा 2 अन्य जवान घायल हो गया| दोनों घायल जवानों को सैन्य अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।आइईडी विस्फोट के पीछे पाक की बैट टीम का हाथ होने से इन्कार नहीं किया जा सकता है। भारतीय सेना भी पाक सेना को कड़ा जवाब दे रही है। देर शाम तक दोनों तरफ से भारी गोलाबारी जारी रही।

 

 

 

 

 

 

सूत्रों के अनुसार, पाक की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) ने सीमा से 200 से 300 मीटर अंदर आकर आइईडी लगाई थी।शनिवार शाम करीब चार बजे भारतीय सेना के जवानों ने नियंत्रण रेखा पर अग्रिम चौकियों के पास हलचल देखी। इस पर उन्होंने सर्च अभियान शुरू कर दिया। इस दौरान इंजीनियर यूनिट में तैनात सेना के मेजर ने कुछ संदिग्ध वस्तु देखी। वह अपने उपकरण से उसकी जांच कर ही रहे थे कि पास ही छिप कर बैठे पाक सेना के जवानों या बॉर्डर एक्शन टीम के सदस्यों ने रिमोट से आइईडी को ब्लास्ट कर दिया। इस विस्फोट में मेजर घटना स्थल पर ही शहीद हो गए, जबकि एक अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। सोची समजी साजिश का हिस्सा था

 

 

 

 

 

Author : kapil patel

Share With

आपके लिए

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING