तनातनी के बाद भाजपा-शिवसेना में फिर से हुई दोस्ती, लोकसभा चुनाव में शिवसेना 23 सीटों पर और भाजपा 25 सीटों पर लड़ेगी

  • Line : kapil patel
  • 18 February,2019
  • 319 Views
तनातनी के बाद भाजपा-शिवसेना में फिर से हुई दोस्ती, लोकसभा चुनाव में शिवसेना 23 सीटों पर और भाजपा 25 सीटों पर लड़ेगी

मुंबई: करीब एक साल चली रार-तकरार के बाद भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना में फिर से दोस्ती हो गई है। महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना का आखिरकार मिलाप हो गया है | महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने लोकसभा और राज्य दोनों विधानसभा चुनावों के लिए शिवसेना और भाजपा के बीच गठबंधन की घोषणा की|  मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि, महाराष्ट्र के 48  सीटों मे से आगामी लोकसभा चुनाव में शिवसेना 23 सीटों पर लड़ेगी और भाजपा 25 सीटों पर लड़ेगी|

 

देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि, हमने यह फैसला राष्ट्र के हित में लिया है और हमें विश्वास है कि एनडीए 2019 में सत्ता में आएगी| मुंबई में एक संयुक्त सम्मेलन में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और भाजपा प्रमुख अमित शाह भी मौजूद है|

 

फड़नवीस ने कहा कि, महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए, हम अपने अन्य सहयोगियों के साथ चर्चा करेंगे। हमारे सहयोगी दलों द्वारा ली गई सीटों की संख्या को छोड़ दें तो भाजपा और शिवसेना बराबर सीटों पर लड़ेंगे।

 

 

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि, महाराष्ट्र के सीएम ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में सभी महत्वपूर्ण बातों को आगे रखा है। मुझे नहीं लगता कि मुझे कुछ भी जोड़ने की जरूरत है। आगे जाने से पहले, मैं उन सैनिकों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं, जिन्होंने पुलवामा हमले में अपनी जान गंवाई।

 

उद्धव ठाकरे ने कहा कि, लोग पिछले 30 वर्षों से शिवसेना और भाजपा को देख रहे हैं। 25 साल तक हम एकजुट रहे और 5 साल तक भ्रम की स्थिति बनी रही। लेकिन जैसा सीएम ने कहा, मैंने अभी भी समय-समय पर सरकार को मार्गदर्शन प्रदान किया है| उन्होने कहा कि, राज्य विधानसभा चुनाव भी चार महीने में होने हैं, इसके लिए सीटों को बराबर-बराबर बांटा जाता है। तो जिम्मेदारियों को भी आधे में विभाजित किया जाएगा।

 

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा,  करोड़ों कार्यकर्ताओं की इच्छा पूरी हुई है। भाजपा का सबसे पुराना दोस्त शिवसेना है। हर अच्छे बुरे वक्त में हमारा साथ दिया है। थोड़ा मनमुटाव था, आज इसी जगह पर सारा मनमुटाव खत्म कर आगे बढ़ने का फैसला लिया है। उन्होने कहा कि , मुझे विश्वास है कि लोकसभा चुनावों में, भाजपा और शिवसेना मिलकर महाराष्ट्र की कुल 48 सीटों में से 45 सीटें जीतेंगे|

 

 

महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के गठबंधन की गुत्थी आखिरकार सुलझ गई| लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर दोनों पार्टियों में सीटों पर समझौता हो गया है। भाजपा 25 सीटों पर जबकि शिवसेना 23 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। विधानसभा चुनाव में दोनों पार्टियां बराबर सीटों पर चुनाव लड़ेंगी। सोमवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे की लंबी मुलाकात के बाद इस पर आखिरी मुहर लग गई। बैठक के बाद दोनों नेताओं ने साझा प्रेस कांफ्रेंस की। सीएम देवेंद्र फणनवीस भी इस दौरान मौजूद रहे और महत्वपूर्ण घोषणा की।

 

 

 

 

आपके लिए

You may like

Follow us on

आपके लिए

TRENDING