loading...

बुलंदशहर हिंसा को लेकर बोले CM योगी, बड़े षड़यंत्र का हिस्सा है ये घटना, गंभीरता से हो जांच

  • 05 December,2018
  • 120 Views
बुलंदशहर हिंसा को लेकर बोले CM योगी, बड़े षड़यंत्र का हिस्सा है ये घटना, गंभीरता से हो जांच

लखनऊ: यूपी में क्राइम घटने का नाम नही ले रहा है। उत्तर प्रदेश के किसी ना किसी जिले मे हर दिन कोई ना कोई बड़ी वारदात निकल कर सामने आती है, ऐसे मे प्रदेश मे हुए बुलंदशहर कांड ने पूरे प्रदेश में हड़कम्प मचा दिया है, तो वहीं, कुछ दिनो पहले राजधानी लखनऊ में हुए भाजपा नेता प्रत्यूष मणि त्रिपाठी की हत्या से पुलिस महकमें में भी हलचल मची हुई है। हम आपको बता दे कि उत्तर प्रदेश मे बढ़ते क्राइम को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज एक बड़ा फैसला लिया है। सीएम योगी ने कहा कि बुलंदशहर की घटना की पूरी गंभीरता से जांच कर गोकशी में संलिप्त सभी आरोपितों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए। उन्होने कहा कि यह घटना एक बड़े षड्यंत्र का हिस्सा है| सीएम ने कहा गोकशी से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े सभी आरोपितों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए|

 

 

 

 

मुख्यमंत्री योगी ने इस दौरान पुलिस अधिकारियो से लखनऊ में भाजपा नेता प्रत्यूष मणि त्रिपाठी हत्याकांड में अब तक की गई कार्रवाई का भी ब्योरा पूछा। मुख्यमंत्री ने इस दौरान प्रत्यूष मणि के परिवारीजन को दस लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिए जाने के साथ ही आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का अल्टीमेटम भी दिया है। इसके अलावा उन्होने बुलंदशहर में हुए बबाल के दौरान मारे गये सुमित के परिवारीजन को भी दस लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान किये जाने की घोषणा की। गोरखपुर से वापस आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार 03 दिसंबर करीब रात 10 बजे मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय, प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार, डीजीपी ओपी सिंह, एडीजी इंटेलीजेंस समेत अन्य अधिकारियों को तलब कर करीब दो घंटे तक कानून-व्यवस्था को लेकर समीक्षा की बैठक की। मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश मे हुई इन संगीन घटनाओं को लेकर कड़ी नाराजगी जताते हुए उनमें की गई कार्रवाई के बारे में सिलसिलेवार जानकारी ली। इस दौरान मुख्यमंत्री ने गाजियाबाद व बरेली में हुई हत्या की घटनाओं के बारे में भी जानकारी ली।

 

 

 

 

 

 

खबरो के मुताबिक बताया जा रहा है कि बुलंदशहर कांड में एसआइटी की जांच रिपोर्ट आने पर मुख्यमंत्री योगी इस पर कड़ी कार्रवाई कर सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि 19 मार्च 2017 से प्रदेश में अवैध स्लॉटर हाउस का संचालन बंद कर दिया गया है। बुलंदशहर की घटना के परिपेक्ष्य में योगी ने कहा कि सभी डीएम-एसपी देखें कि ऐसे अवैध कार्य न हों। वहीं सीएम योगी ने कहा कि अवैध स्लॉटर हाउस संचालित होने पर डीएम-एसपी की सामूहिक जिम्मेदारी होगी और उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही होगी। यदि स्लॉटर हाउस अवैध तरीके से चलते पाये गए तो उनकी सामूहिक जिम्मेदारी होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि महौल खराब करने वाले अराजकतत्वों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई की जाये।

 

 

 

 

 

Author : Ankit Gupta
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

Loading...

आपके लिए

TRENDING