‘2 करोड़’ रोजगार देने के बजाए आरक्षण के नाम पर फूट डालने की कोशिश कर रही है मोदी सरकार: पल्लवी पटेल

  • 10 January,2019
  • 285 Views
‘2 करोड़’ रोजगार देने के बजाए आरक्षण के नाम पर फूट डालने की कोशिश कर रही है मोदी सरकार: पल्लवी पटेल

लखनऊ: सामान्य वर्ग के लोगों को आर्थिक आधार पर आरक्षण देने के विधेयक का अपना दल की प्रदेश अध्यक्ष पल्लवी पटेल ने कड़ा विरोध करते हुए, बताया कि देश में प्रतिदिन 550 नौकरियाँ खत्म हो रही हैं और लगभग 15 करोड़ से अधिक बेरोजगार युवा है, ऐसे में जब केंद्र सरकार को उनके रोजगार की चिंता करनी चाहिए तो वो आरक्षण के नाम पर उनमें फूट डालने की कोशिश कर रही है।

 

पल्लवी पटेल ने कहा कि, बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में प्रतिवर्ष 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन अपने इस वादे को वो पूरा करने में नाकाम रही है और अपनी इस विफलता को छिपाने के लिए अब देश के युवाओं को सामान्य वर्ग को आरक्षण देकर गुमराह कर रही है।‘‘आरक्षण नहीं रोजगार चाहिए, हमें हमारा हक चाहिए’’| मोदी सरकार को यह जवाब देना होगा कि वह युवाओं को रोजगार कब देगी।

 

श्रीमती पटेल ने आगे बताया कि, अब लड़ाई 10 प्रतिशत आरक्षण की नहीं है, बल्कि रोजगार की है यदि रोजगार के अवसरों को ही धीरे-धीरे खत्म कर दिया जायेगा तो आरक्षण किस काम का रह जायेगा, सवाल ये है कि जिस देश में इतनी बड़ी आबादी बेरोजगारी की समस्या झेल रही हो वहां की सरकार अगर आपसे तब भी आरक्षण की बात करे तो सावधान हो जाइये क्योंकि आपके साथ धोखा हो रहा है।

 

 

Author : kapil patel

Share With

आपके लिए

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING