loading...

Video वायरल: EVM बदलने का आरोप, स्ट्रांग रूम के बाहर कांग्रेस-BSP कार्यकर्ताओं का हंगामा, 48 घंटे बाद स्ट्रांग रूम पहुँची 34 ईवीएम

  • 01 December,2018
  • 205 Views
Video वायरल: EVM बदलने का आरोप, स्ट्रांग रूम के बाहर कांग्रेस-BSP कार्यकर्ताओं का हंगामा, 48 घंटे बाद स्ट्रांग रूम पहुँची 34 ईवीएम

मध्य प्रदेश:  मध्य प्रदेश विधानसभा 2018 के मतदान के बाद अब 11 दिसंबर मतगणना होनी है| मतदान के बाद ईवीएम की सुरक्षा एक बड़ी जिम्मेदारी है। इस बीच शुक्रवार को देर रात यहां हंगामा हो गया। कांग्रेस पार्टी और बहाजुन समाज पार्टी (बीएसपी) के कार्यकर्ताओं ने  भोपाल के सतना में एक स्ट्रांग रूम के बाहर विरोध किया| विरोध”प्रदर्शन को देखते हुए डीएम समेत तमाम पदाधिकारियों को वहां आना पड़ा। डीएम राहुल जैन ने कहा कि है, “स्ट्रांग रूम पूरी तरह से सुरक्षित है। हम वीडियो की जांच करेंगे। उन्होंने इस पूरे मामले की जांच का भरोसा देकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को शातं कराया।

 

 

 

 

बता दे कि,एक वीडियो वायरल होने के बाद हंगामा हो गया| शुक्रवार रात दो लोग गाड़ी से उतरकर कार्टन में कुछ ले जाते हुए दिखाई दिए, जिसके बाद कांग्रेस और BSP ने ईवीएम बदले जाने का आरोप लगाया और जमकर हंगामा किया। वीडियो देखने के बाद सभी दलों के प्रतिनिधियों और कार्यकर्ताओं ने स्ट्रांग रूम सेंटर पर आकर हंगामा किया।

 

 

 

इस घटना के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस ने ईवीएम की सुरक्षा की लेकर सवाल उठाए हैं. कांग्रेस ने भोपाल के स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर लगी एलईडी के बंद होने पर आपत्ति दर्ज कराते हुए चुनाव आयोग में शिकायत की है|

 

 

कांग्रेस ने कहा, प्रदेश के गृहमंत्री के क्षेत्र में मतदान के 48 घंटे बाद बिना नंबर की गाड़ी से ईवीएम स्ट्रांग रूम में जमा कराने का प्रयास हुआ। —भाजपा को जिताने के लिये ईवीएम बदलने की सरकारी साज़िश..? कलेक्टर, एसपी समेत निर्वाचन कार्य में लगे तमाम लोगों पर सख़्त कार्यवाही कर लोकतंत्र की रक्षा हो।

 

 

शोभा ओझा ने कहा कि, शुजालपुर में बीजेपी नेता की होटल में EVM मिलना,भोपाल में स्ट्रांग रूम के कैमरे बंद होना और खुरई में बड़ी मात्रा में मशीनें बरामद होना, चुनाव की निष्पक्षता पर बड़ा सवालिया निशान है व लोकतंत्र की हत्या का प्रयास है। दोषी अधिकारियों पर निलंबन की त्वरित कार्यवाही होना चाहिए।

 

 

Video…

 

 

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि, भोपाल में स्ट्रांग रूम के बाहर लगी एलईडी बन्द होना, सागर में गृहमंत्री की विधानसभा सीट की रिजर्व ईवीएम मशीनों का 48 घंटे बाद पहुँचना, सतना-खरगोन में अज्ञात बक्से स्ट्रांग रूम में ले जाने के वीडियो का सामने आना कही ना कही बड़ी साजिश की और इशारा है।

 

 

चुनाव के दिन बड़ी मात्रा में ईवीएम और वीवीपैट में गड़बड़ी पाई गई, मतदान की रफ़्तार दिन भर संदेहास्पद रही, और अब ईवीएम की सुरक्षा में सेंध की ख़बरें हैं। —क्या किसी अधिकारी की कहीं कोई ग़लती नही..? या अधिकारी भी अब भाजपा के दबाव में कार्य कर रहे हैं..?

 

 

Video: मप्र के गृहमंत्री के क्षेत्र में मतदान के 48 घंटे बाद बिना नंबर की गाड़ी से ईवीएम स्ट्रांग रूम में जमा कराने 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Author : kapil patel
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

Loading...

आपके लिए

TRENDING