विधानसभा चुनाव 2018 : मध्य प्रदेश में बहुमत से दो कदम दूर रह गई कांग्रेस, मायावाती का मिला समर्थन

  • 12 December,2018
  • 177 Views
विधानसभा चुनाव 2018 : मध्य प्रदेश में बहुमत से दो कदम दूर रह गई कांग्रेस, मायावाती का मिला समर्थन

नई दिल्‍लीलोकसभा चुनाव से पहले सत्ता का सेमीफाइनल कहे जा रहे 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी को करारी शिकस्त | कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से राजस्थान, छत्तीसगढ़ छीन लिया और मध्यप्रदेश में भी सबसे बड़ी पार्टी बनकर आई है|

 

 

मध्यप्रदेश में मुकाबला शुरुआत से ही दिलचस्प रहा| चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक मध्यप्रदेश में 230 में से 114 सीटें कांग्रेस, 109 सीटें  भाजपा, दो सीटें बसपा, एक सीट समाजवादी पार्टी और चार सीटों पर निर्दलीय उम्मदीवारों ने कब्जा कर लिया है| हालांकि, कांग्रेस बहुमत के आंकड़े से दो सीट दूर रह गई है

 

 

 

बसपा प्रमुख मायावाती ने कहा कि, परिणाम दिखाते हैं कि छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में लोग बीजेपी और इसकी पीपीएल नीतियों के खिलाफ पूरी तरह से थे और नतीजतन कांग्रेस ने अन्य प्रमुख विकल्पों की कमी के कारण कांग्रेस को चुना|

 

उन्होने कहा कि, भले ही हम कांग्रेस की कई नीतियों से सहमत नहीं हैं, लेकिन हम मध्यप्रदेश में उनका समर्थन करने के लिए सहमत हुए हैं और यदि आवश्यकता राजस्थान में भी करेंगे

 

 

Video..

 

 

 

 

 

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने कहा कि,  बसपा सुप्रीमो मायावती जी ने भी मप्र में कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान किया। -इसके पूर्व कल सपा प्रमुख अखिलेश यादव जी व सभी निर्दलीय विधायक भी मप्र में कांग्रेस को समर्थन दे चुके हैं। कांग्रेस अब बहुमत के लिये ज़रूरी आँकड़ा 116 से आगे बढ़ते हुये 121 पर पहुँची। सभी का आभार।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने मध्य प्रदेश के राज्यपाल से सरकार बनाने का दावा करने का दावा किया

 

 

 

 

 

दमोह कलेक्टर के खिलाफ कांग्रेस की शिकायत

मध्यप्रदेश के दमोह में करीब पांच सीटों पर कांग्रेस के जीते प्रत्याशियों को कलेक्टर द्वारा सर्टिफिकेट न देने का आरोप लगा है। कांग्रेस ने चुनाव आयोग से दामोह जिलाधिकारी के खिलाफ शिकायत करते हुए कहा है कि कम से कम पांच सीटों पर पार्टी के उम्मीदवार जीत चुके हैं, लेकिन दमोह के जिलाधिकारी उन्हें सर्टिफिकेट जारी नहीं कर रहे हैं। कांग्रेस ने इसे लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर आरोप लगाया है कि वह सर्टिफिकेट न देने का दबाव बना रहे हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

Author : kapil patel

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING