loading...

बस्ती: पटाखों की दुकानों पर छापेमारी से पटाखा कारोबारियों मे मचा हड़कंप

  • 06 November,2018
  • 88 Views
बस्ती: पटाखों की दुकानों पर छापेमारी से पटाखा कारोबारियों मे मचा हड़कंप

बस्ती: बस्ती जिले के  कप्तानगंज  में 5 नवंबर सोमवार को दोपहर मे पुलिस ने पटाखो की दुकानो मे छापा मार दिया, दुकानों पर छापेमारी देर रात तक चलती रही। करीब आधा दर्जन दुकानों से अवैध रूप से रखे गए पटाखे भारी मात्रा में बरामद किए गए हैं। तीन लोगो को हिरासत में लेकर पुलिस पूूछताछ कर रही है।इससे पहले बभनान के लक्ष्मीबाई वार्ड में अवैध रूप से बनाए गए गोदाम में आग लगने और मौत की घटना के बाद से प्रशासन और पुलिस सक्रिय हो गई है।सोमवार को एसडीएम हर्रैया शिव प्रताप शुक्ला और सीओ कलवारी अरविंद वर्मा के नेतृत्व में टीम ने कप्तानगंज कस्बे में पटाखों की दुकानों पर अचानक से छापेमारी शुरू की। कई दुकानों पर पटाखे बिना लाइसेंस के बेचे जा रहे थे। मुखबिर ने सूचना दी थी कि कस्बे के आधा दर्जन दुकानों के गोदामों में भारी मात्रा में पटाखे और विस्फोटक भरे पड़े हैं।

 

 

एसडीएम और सीओ ने थानाध्यक्ष कप्तानगंज सतानंद पांडेय, अनिल कुमार सिंह, संतोष कुमार मिश्रा समेत भारी पुलिस बल के साथ छापेमारी शुरू की। अमित कुमार, मनोज कुमार, तारक नाथ के यहां से भारी मात्रा में पटाखे बरामद किए गए। तीनों को हिरासत में ले लिया है। छापेमारी का दौर रात तक जारी रहा। घरों मे से पटाखों को निकालने में पुलिस को घंटों तक काफ़ी मशक्कत करनी पड़ी। ट्रैक्टर ट्राली व पिकअप पर लादकर पटाखो को थाने पहुँचाया गया| थानाध्यक्ष सतानंद पांडेय ने बताया कि अभी पटाखों की गिनती व कीमत का आकलन नहीं हो सका है। लेकिन अंदाजा लगाया जाए तो लगभग 50 लाख के पटाखे हमने बरामद किए है| पुलिस ने कहा कि अवैध रूप से पटाखों के भंडारण और बेचने पर किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा।

 

 

छापेमारी के बाद से पटाखा कारोबारियों में मचा हड़कंप परशुरमपुर क्षेत्र के विभिन्न बाजारों में एसडीएम और सीओ हर्रैया तथा परशुरामपुर पुलिस की संयुक्त टीम ने रविवार शाम तक कई बाजारों में छापेमारी कर पटाखा कारोबारियों की वैधानिकता का परीक्षण किया। बभनान बाजार में हुए विस्फोट की घटना से सबक लेते हुए राजस्व तथा पुलिस प्रशासन सतर्क है। कोहराएं तथा नंदनगर से अवैध रूप से पटाखे का कारोबार करने वाले चार लोगों पर परशुरामपुर पुलिस ने 5/9 विस्फोटक अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। छापेमारी से बाजारों में लुक छिप कर बच्चों को पटाखा दे रहे कारोबारियों में हड़कंप मच गया है। कुछ कारोबारियों ने बताया कि दीपावली में छोटी पूंजी लगाकर हम सभी 2-4 हजार की कमाई कर लेते थे लेकिन छापेमारी को देखते हुए बिना लाइसेंस के पटाखे बेचना मुश्किल लग रहा है। परशुरामपुर के एसओ पंकज कुमार गुप्ता ने बताया कि अवैध पटाखों को बेचने नहीं दिया जाएगा। बिना लाइसेंस के पटाखे का कारोबार करते मिलने पर पटाखा कारोबारियों पर सख़्त से सख़्त कार्यवाई की जाएगी।

 

Author : Ankit Gupta
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING