केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा,आलोक वर्मा को सिर्फ छुट्टी पर भेजा है, आज भी वही CBI Director है

  • 05 December,2018
  • 284 Views
केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा,आलोक वर्मा को सिर्फ छुट्टी पर भेजा है, आज भी वही CBI Director है

नई दिल्ली: सीबीआई बनाम सीबीआई मामले में सुप्रीम कोर्ट में एक बार फिर से बुधवार को सुनवाई की गई, पिछली सुनवाई में दोनों पक्षों के वकीलों ने दलील दी थी, मगर सुप्रीम कोर्ट से ने सीबीआई चीफ आलोक वर्मा को लेकर कोई फैसला नहीं दिया था| सुप्रीम कोर्ट को यह तय करना है कि छुट्टी पर भेजे गए सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा वापस ड्यूटी पर लौटेंगे या आगे उन्हें जांच का सामना करना होगा| आलोक वर्मा ने उन्हें छुट्टी पर भेजे जाने के सरकार के फ़ैसले को चुनौती दी है|

 

 

 

केंद्र सरकार की तरफ से (AG KK Venugopal) अटॉर्नी जनरल के के वेणुगोपाल ने कहा कि,  “सीबीआई में क्या हो रहा है, इस बारे में केंद्र सरकार बहुत चिंतित थी क्योंकि दो वरिष्ठ अधिकारी सबसे ज्यादा लड़ रहे थे। सरकार और सीवीसी सही निर्णय लेने का फैसला करने के लिए और कौन सही है कौन गलत है। सीबीआई खुद का उपहास किया गया था। ”

 

 

– सुप्रीम कोर्ट ने एजी के के वेणुगोपाल से पूछा, “क्या सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा के लड़ने के बारे में जनता का कोई सबूत है?

 

 

-AG KK Venugopal  ने कोर्ट में अखबारों की clipping को दिया।  सीबीआई के अफसरों के बीच चल रहे विवाद और झगड़े की ये सब जानकारी अखबारों और मीडिया की है| सब कुछ पब्लिक डोमेन में है|

 

 

 

– एजी केके वेणुगोपाल सुप्रीम कोर्ट को बताते हैं, “सीबीआई में सार्वजनिक विश्वास बहाल करने के लिए सरकार की कार्रवाई जरूरी थी और एक स्थिति उत्पन्न हुई थी जहां केंद्र में हस्तक्षेप करना पड़ा था। मुद्दे केंद्र की सावधानीपूर्वक जांच के बाद संतुष्ट हो गया और निर्णय लिया कि सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को अपनी शक्ति( Divested of his Power ) से हटा दिया जाए।

 

 

 

– एजी केके वेणुगोपाल सुप्रीम कोर्ट में “सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा के खिलाफ कार्रवाई हस्तांतरण की राशि नहीं है.. केवल उनके कार्यों को वापस ले लिया गया है।आलोक वर्मा अभी भी निदेशक हैं| सरकारी बंगला कार सबकुछ वही है| अस्थाना भी स्पेशल डायरेक्टर हैं|

 

 

 

 – एजी के के वेणुगोपाल सुप्रीम कोर्ट को बताते हैं कि “आलोक वर्मा और राकेश अस्थाना के बीच लड़ाई महत्वपूर्ण बहस और सार्वजनिक बहस का विषय बन रही थी। भारत सरकार आश्चर्यचकित थी कि शीर्ष अधिकारी क्या कर रहे है, वे बिल्लियों की तरह लड़ रहे थे।

 

 

 – एजी केके वेणुगोपाल ने कहा कि, हमने आलोक वर्मा  को सिर्फ छुट्टी पर भेजा है| गाड़ी, बंगला, भत्ते, वेतन और यहां तक कि पदनाम भी पहले की तरह है| आज  भी वही सीबीआई निदेशक हैं|

 

 

 

 

 

 

Author : kapil patel

Share With

Tag With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING