loading...

भाजपा के पूर्व मंत्री जर्नादन रेड्डी को 24 November तक न्‍यायिक हिरासत में भेजा

  • 11 November,2018
  • 92 Views
भाजपा के पूर्व मंत्री जर्नादन रेड्डी को 24 November तक न्‍यायिक हिरासत में भेजा

कर्नाटक:  केंद्रीय अपराध शाखा (सीसीबी) ने BJP के पूर्व मंत्री एवं खनन कारोबारी जनार्दन रेड्डी को कथित एंबियंट समूह घूस मामले में गिरफ्तार किया और 24 नवंबर तक उन्हें न्यायिक हिरासत पर भेज दिया है। शाखा के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने कहा, ‘हमने उन्हें गिरफ्तार करने का फैसला विश्वसनीय साक्ष्य और प्रत्यक्षदर्शियों के बयान के आधार पर किया। हम उन्हें मैजिस्ट्रेट के सामने पेश करेंगे। हम उनसे पैसों की वसूली करेंगे और उसे निवेशकों को दे देंगे।’ बंगलूरू के सीसीबी ने रेड्डी के साथ ही उनके करीबी अली खान को भी गिरफ्तार किया है।

 

 

 

 

 

 

जनार्दन रेड्डी के वकील ने कहा कि, जनार्दन रेड्डी को न्यायाधीश के समक्ष पेश किया गया था और अदालत ने रिकॉर्ड पर हमारे जमानत आवेदन को स्वीकार करने से प्रसन्नता व्यक्त की थी। न्यायाधीश ने कल तक मुख्य जमानत आवेदन पर आपत्ति दर्ज करने के लिए समय दिया है और आवेदन कल लिया जाएगा|

 

 

 

अपराध शाखा की जांच में पता चला था कि रेड्डी और खान ने एबिडेंट मार्केटिंग से 18 करोड़ रुपये के मूल्य का 57 किलो सोना लिया था। इस सोने को प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों से एबिडेंट के प्रमोटर सैयद अहमद फरीद को ढील देने के बदले लिया गया था। जिसके बाद ईडी ने खान और रेड्डी को पूछताछ के लिए रविवार को नोटिस दिया था।

 

 

 

शनिवार को कर्नाटक के जर्नादन रेड्डी पोंजी घोटाले के सिलसिले में पुलिस के सामने पेश हुए और उन्होंने आरोपों को ‘राजनीतिक साजिश’ करार देकर इनसे साफ इनकार किया था। पुलिस के हिसाब से फरार चल रहे रेड्डी अपने वकीलों के साथ कार से केंद्रीय अपराध शाखा कार्यायल पहुंचे थे। इससे पहले उन्होंने किसी अज्ञात स्थान से वीडियो जारी कर कहा था कि वह केंद्रीय अपराध शाखा के सामने पेश होंगे।

 

 

 

केंद्रीय अपराध शाखा कार्यालय पहुंचने के बाद रेड्डी ने दावा किया था कि यह एक ‘राजनीतिक साजिश’ है और उन्हें पुलिस पर विश्वास है। इससे पहले अपने वीडियो संदेश में रेड्डी ने कहा था कि वह भाग नहीं रहे हैं और शहर में ही हैं। उन्हें भागने की कोई जरूरत भी नहीं है। संदेश में उन्होंने कहा था, ‘मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है। पुलिस के पास यह साबित करने के लिए एक भी सबूत नहीं है कि मैं गलत हूं। वह मीडिया को गुमराह कर रही है।’

 

 

Author : kapil patel
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

Loading...

आपके लिए

TRENDING