NSA अजीत डोभाल के बेटे ने ‘जयराम रमेश’ और ‘कैरवां के संपादक-पत्रकार के खिलाफ पटियाला हाउस कोर्ट में  किया मानहानि का दावा

  • 21 January,2019
  • 793 Views
NSA अजीत डोभाल के बेटे ने ‘जयराम रमेश’ और ‘कैरवां के संपादक-पत्रकार के खिलाफ पटियाला हाउस कोर्ट में  किया मानहानि का दावा

नई दिल्ली:  राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल के बेटे पर कांग्रेस ने ‘कैरवां’ मैगजीन में छपे एक लेख के आधार पर मनी लांड्रिंग (Money laundering) का आरोप लगाया था, जिसके बाद अजित डोभाल के बेटे विवेक ने इस मामले में कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।  राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल के बेटे, विवेक डोभाल ने कांग्रेस नेता जयराम रमेश, कारवां पत्रिका के प्रधान संपादक और कौशल श्राफ (रिपोर्टर) के खिलाफ आपराधिक मानहानि की शिकायत दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट का रुख किया। कोर्ट कल यानी मंगलवार  मामले की सुनवाई करेगा

 

राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के बेटों की विदेशों में ‘फर्जी’ कंपनियों का जाल, नोटबंदी के 13 दिन बाद किया गया पंजीकृत

 

 

 

 

दरअसल, कैरवां मैगजीन में छपे एक लेख में कहा गया था कि 8 नवंबर 2016 को पीएम मोदी द्वारा नोटबंदी की घोषणा के 13 दिन बाद यानी 21 नवंबर 2016 को विवेक डोभाल ने टैक्स हेवन केमैन आईलैंड में जीएनवाई एशिया फंड नाम की हेज फंड कंपनी का रजिस्ट्रेशन कराया था।

 

रिपोर्ट के मुताबिक, यह हेज फंड 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नोटबंदी की घोषणा के महज 13 दिन बाद पंजीकृत किया गया था|विवेक का यह व्यवसाय उनके भाई शौर्य डोभाल के व्यवसाय से जुड़ा है| शौर्य भारतीय जनता पार्टी(BJP) के नेता हैं और मोदी सरकार (Modi government) के करीब माने जाने वाले थिंक टैंक इंडिया फाउंडेशन के प्रमुख हैं| विवेक डोभाल की यह कंपनी उनके पिता अजीत डोभाल की उस सार्वजनिक अभिव्यक्ति के खिलाफ जाती है जिसे उन्होंने 2011 में प्रकाशित अपनी रिपोर्ट में व्यक्त किया था|

 

 

 

 

 

 

Author : kapil patel

Share With

आपके लिए

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING