loading...

रविशंकर प्रसाद के बयान पर कांग्रेस का पलटवार, कहा – श्री मोदी को चीन के सामने खड़े होने की हिम्मत नहीं है,

  • 14 March,2019
  • 38 Views
रविशंकर प्रसाद के बयान पर कांग्रेस का पलटवार, कहा – श्री मोदी को चीन के सामने खड़े होने की हिम्मत नहीं है,

नई दिल्ली: Lok Sabha Election 2019: कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) और कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल (Shaktisinh Gohil)  ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोदी सरकार और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद  पर साधा निशाना|

 

 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के बयान पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद  ने कहा कि-राहुल गांधी से मेरा सवाल है कि 2009 में यूपीए के समय में भी चीन ने मसूद अजहर पर यही टेक्निकल ऑब्जेक्शन लगाया था, तब भी आपने ऐसा ट्वीट किया था क्या…? रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने कहा कि,राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  जी आज आपकी विरासत के कारण ही चीन सुरक्षा परिषद का सदस्य है|

 

 

रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) के इस बयान पर पलटवार करते हुए रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि, यूएनएससी का गठन 1945 में हुआ, भारत 1947 में स्वतंत्र हुआ। 1945 के बाद से कोई नया देश नहीं मिला। जब पूर्व पीएम पं. नेहरू से (Former PM Pt. Jawaharlal Nehru) यूएनएससी की सदस्यता के बारे में पूछा गया था, उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा था कि इस तरह की कोई भी पेशकश भारत में आधिकारिक या अनौपचारिक नहीं थी।

 

 

रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि, उन्होंने (Former PM Pt. Jawaharlal Nehru) कहा, “चार्टर में संशोधन के बिना इसमें कोई बदलाव नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि,श्री मोदी की चीन के साथ खड़े होने की कोई हिम्मत नहीं है, और फिर भी वे पूर्व पीएम पं नेहरू पर आरोप लगाते हैं।

 

 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC)  1267 सूची में जैश-ए-मोहम्मद (JeM) प्रमुख मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी के रूप में नामित करने के लिए चीन द्वारा अड़ंगा लगाए जाने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि, चीन ने मसूद अजहर को UNSC में आतंकवादी घोषित होने से रोका। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि चीन पाकिस्तान की मदद कर रहा है, जो मसूद अज़हा जैसे आतंकवादियों को बचाता है|

 

उन्होंने कहा कि,य ह कमजोर मोदी सरकार और उनकी कमजोर नीतियों का परिणाम है। जब चीनी सेना डोकलाम में पूर्ण सैन्य परिसर का निर्माण कर रही थी, तब श्री मोदी चुप क्यों थे….? जब चीन अवैध रूप से सिलीगुड़ी कॉरिडोर के करीब सड़कें बना रहा था, तब श्री मोदी चुप क्यों थे…?

 

रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि-जब चीन पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में China Pakistan Economic Corridor ’ का निर्माण कर रहा था, और ग्वादर पोर्ट में पनडुब्बियों को तैनात कर रहा था, तो श्री मोदी चुप क्यों थे…? अरुणाचल की सीमा में, चीन ने सुरंगों का निर्माण किया जबकि श्री मोदी ने कुछ नहीं किया। जब चीन ने UNSC में भारत के लिए स्थायी सदस्यता का विरोध किया, तो श्री मोदी चुप क्यों थे….?

 

उन्होंने  (Randeep Singh Surjewala) कहा कि- मोदी जी 4 बार बिना एजेंडे के चीन गये। वहां उन्होंने न तो डोकलाम पर बात की न ही मसूज अजहर के मुद्दे को उठाया| सच्चाई यह है कि श्री नरेंद्र मोदी जैसे कमजोर प्रधानमंत्री की नीतियों ने इस स्थिति को राष्ट्र के सामने ला दिया है|

 

 

शक्ति सिंह गोहिल (Shaktisinh Gohil)  ने कहा कि, सच्चाई ये है कि मोदी जी और उनके करीबी करोड़ों से कम खाते नहीं और सच बोलने वालों को चैन से रहने नहीं देते| उन्होंने कहा कि, मोदी जी की सबसे करीबी सांसद स्मृति ईरानी ने गांव गोद लिया और उसके नाम पर एमपीलैड अनुदान को अपनी जेब में डाला.

 

 

शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि,  कार्यदायी संस्था सरकारी संस्था के अलावा कोई नहीं हो सकता ये दिशा निर्देश है। लेकिन मोदी जी की सबसे करीबी सांसद स्मृति ईरानी ने कहा कि कार्यदायी संस्था शारदा मजदूर सहकारी समिति को बनाया जाए|  उन्होंने कहा कि, कलेक्टर ने जब कुछ कामों की जांच करायी तो पता चला कि कहीं कोई काम नहीं हुआ। सब कुछ फर्जी है। तब कलेक्टर ने कहा कि उनसे करीब 4 करोड़ की रिकवरी की जाए|

 

 

शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि, भारतीय जनता पार्टी भयमुक्त भ्रष्टाचार करती है|उन्होंने कहा कि, हम मांग करते हैं कि मोदी जी श्रीमती स्मृति ईरानी को मंत्रीपद से तुरंत बर्खास्त करें और भ्रष्टाचार निरोधक कानून तथा भारतीय दंड संहिता की दूसरी धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जाए|

 

 

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) ने कहा कि- कैग की रिपोर्ट नम्बर 4, वर्ष 2018 में कहा गया कि शारदा मजदूर कामदार मंडली को बिना निविदा के ही 232 कार्यों के ठेके और 5.93 करोड़ रुपये का भुगतान करने के लिए दोषी ठहराया है, जिसमें 84.53 लाख रुपये का फर्जी भुगतान शामिल है| जरुरत पड़ी तो हम अदालत के माध्यम से श्रीमती स्मृति ईरानी पर एफआईआर दर्ज करायेंगे

 

 

 

Author : kapil patel
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

Loading...

आपके लिए

TRENDING