सपा-बसपा गठबंधन: ‘बुआ-बबुआ’ की जोड़ी 38-38 सीटों पर लड़ेगी, Alliance पर बोले शिवपाल, हमारे बिना है अधूरा 

  • Line : kapil patel
  • 12 January,2019
  • 270 Views
सपा-बसपा गठबंधन:  ‘बुआ-बबुआ’ की जोड़ी 38-38 सीटों पर लड़ेगी,  Alliance पर बोले शिवपाल, हमारे बिना है अधूरा 

लखनऊ: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) की तैयारियों में उत्तर प्रदेश(Uttar Prdesh) में सपा और बसपा पूरी तरह से जुट गई है और शनिवार को मायावती और अखिलेश यादव (BSP Chief Mayawati and Samajwadi Party Chief Akhilesh Yadav) ने सपा-बसपा गठबंधन (SP-BSP Alliance) का औपचारिक ऐलान कर दिया| प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मायावती ने कहा कि, यूपी की 80 सीटों में 38-38 सीटों पर सपा और बसपा लड़ेगी| वहीं पार्टी ने दो सीटों आरएलडी(RLD) के लिए छोड़ी हैं| मायावती ने कहा कि वे कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेंगे लेकिन अमेठी और रायबरेली कांग्रेस के लिए छोड़ रहे हैं|

 

अखिलेश यादव ने कहा कि,भाजपा के अहंकार को हराने के लिए बसपा और सपा का साथ आना जरूरी था। भाजपा हमारे कार्यकर्ताओं में मतभेद पैदा करने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है, हमें एकजुट होना चाहिए और ऐसी किसी भी रणनीति का मुकाबला करना चाहिए|

 

अखिलेश यादव ने कहा कि, मायावती जी का अपमान मेरा अपमान है| उन्होने कहा कि, आज से सपा का कार्यकर्ता यह गांठ बांध ले कि मायावती जी का अपमान मेरा अपमान होगा| हम समाजवादी हैं औऱ समाजवादियों की विशेषता होती है कि हम दुख और सुख के साथ होते हैं| बीजेपी हमारे बीच गलतफैमी पैदा कर सकती है| बीजेपी दंगा-फसाद भी कराया जा सकता है लेकिन हमें संयम और धैर्य से काम लेना है| मैं मायावती जी के इस निर्णय का स्वागत करता हूं| मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि अब बीजेपी का अन्त निश्चिचत है|

 

SP-BSP Alliance: सपा-बसपा के बीच 38-38 सीटों पर बनी बात, बिना गठबंधन कांग्रेस को दी अमेठी-रायबरेली

 

BSP Chief Mayawati ने कहा कि, हमने (BSP-SP) ने आगामी लोकसभा चुनाव एक साथ लड़ने का फैसला किया है, इससे देश में एक नई राजनीतिक क्रांति आएगी। उन्होने कहा कि, भाजपा हो या कांग्रेस, जो भी शासन करते हैं, उनकी नीतियां ज्यादातर एक जैसी ही होती हैं। उदाहरण के लिए, हम देख रहे हैं कि कैसे दोनों रक्षा सौदों में भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। कांग्रेस ने घोषित आपातकाल लागू किया, आज अघोषित आपातकाल है|

 

 

मायावती ने कहा कि बोलीं- देशहित में हमने लखनऊ गेस्ट हाउस कांड को किनारे रखा|  ये प्रधानमंत्री मोदी जी की ओर BJP के नॅशनल प्रेसीडेंट अमित शाह, इन दोनो गुरु-चेले की नींद उड़ाने वाली प्रेस कान्फरेन्स है| इसके अलावा, हम अपने गठबंधन में कांग्रेस को शामिल करके कुछ हासिल नहीं करेंगे। बसपा और सपा दोनों ने अतीत में अनुभव किया है कि कांग्रेस का वोट हस्तांतरणीय नहीं है| बसपा 38 सीटों पर, सपा 38 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। दो लोकसभा सीटें हमने अन्य दलों के लिए छोड़ी हैं और अमेठी और रायबरेली कांग्रेस के लिए छोड़ दी गई हैं।|

 

SP-BSP Alliance पर शिवपाल यादव ने कहा – यह गठबंधन हमारी पार्टी के बिना है अधूरा 

सपा-बसपा गठबंधन (SP-BSP Alliance ) पर प्रगति-समाजवादी पार्टी (लोहिया) (Pragatisheel Samajwadi Party (Lohia) ) के प्रमुख शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने कहा कि, यह गठबंधन प्रगतिवादी समाजवादी पार्टी के बिना अधूरा है, केवल एक धर्मनिरपेक्ष मोर्चा ही भाजपा को हरा सकता है।

 

SP-BSP Alliance पर राजद(RJD) नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि BJP के हार की शुरूवात उत्तर प्रदेश और बिहार से हो चुकी है|

 

सपा राज्यसभा सांसद अमर सिंह-

सपा-बसपा गठबंधन पर राज्यसभा सांसद अमर सिंह (Rajya Sabha MP Amar Singh on SP-BSP alliance) ने कहा कि, समाजवादी पार्टी के संस्थापक हमेशा मुलायम सिंह जी रहेंगे। अब वह इस विकास से पूरी तरह कट गया है। बैनर पर, मायावती, मुलायम सिंह और अखिलेश एक साथ नहीं होंगे। यह केवल अखिलेश और मायावती ही होंगे, ‘बुआ और बबुआ’|

 

सीएम योगी ने कहा-

सपा-बसपा गठबंधन पर सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath on SP-BSP alliance)ने कहा कि, यह जातिवादी, भ्रष्ट और अवसरवादी मानसिकता का गठबंधन है जो विकास और सुशासन नहीं चाहता है। जनता सब जानती है और इस अपवित्र गठबंधन को एक सही जवाब दिया जाएगा।

 

 

 

 

 

आपके लिए

You may like

Follow us on

आपके लिए

TRENDING