loading...

जिया चैरिटेबल ट्रस्ट भ्रष्टाचार केस: बांग्लादेश की पूर्व प्रधामंत्री खालिदा जिया को भ्रष्टाचार के मामले में 7 साल की कैद

  • 29 October,2018
  • 91 Views
जिया चैरिटेबल ट्रस्ट भ्रष्टाचार केस: बांग्लादेश की पूर्व प्रधामंत्री खालिदा जिया को भ्रष्टाचार के मामले में 7 साल की कैद

 बांग्लादेश:  ढाका की एक कोर्ट ने भ्रष्टाचार के मामले में बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया को सात साल की कैद की सजा सुनाई है। जिया चैरिटेबल ट्रस्ट भ्रष्टाचार केस से जुड़ा यह मामला था। जिया अपने ट्रस्ट को अज्ञात स्रोतों से फंड दिलाने के मामले में दोषी पाई गईं। इस मामले में तीन अन्य को भी सजा सुनाई गई। जिया भ्रष्टाचार के एक अन्य मामले में फरवरी से ही जेल में हैं।

 

 

 

जिया चैरिटेबल ट्रस्ट भ्रष्टाचार केस

8 साल पहले विपक्षी बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) अध्यक्ष के खिलाफ एंटी करप्शन कमिशन (एसीसी) की तरफ से केस दायर किया गया था। एसीसी ने खालिदा और तीन अन्य के ऊपर जिया चैरिटेबल ट्रस्ट के जरिए 3,97,435 डॉलर के भर्जीवाड़े का आरोप लगाया था।

 

इससे पहले, जिया अनाथालय ट्रस्ट ममले में इससे पहले 8 फरवरी को पांच साल कैद की सजा सुनाई गई थी। उस केस में खालिदा जिया और उनके बड़े बेटे तारिक रहमान समेत पांच लोगों पर उनके 2001 से 2006 के दौरान बांग्लादेश के प्रधानमंत्री पद पर बने रहने के दौरान  2,53,164 डॉलर के गबन का आरोप था।

 

 

 

 

 

 

 

ग्रेनेड से हमले के मामले में बेटे को उम्रकैद 

इससे पहले बांग्लादेश की अदालत ने प्रधानमंत्री शेख हसीना की चुनावी रैली पर ग्रेनेड से हमला करने के मामले में जिया के बेटे तारिक रहमान समेत 38 लोगों को दोषी करार दिया था। कोर्ट ने तारिक समेत 19 लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। वहीं, बाकी 19 लोगों को मौत की सजा सुनाई गई।

 

2004 के ग्रेनेड हमला मामले में पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया के भगोड़े बेटे तारिक रहमान समेत 19 को उम्रकैद और 19 फांसी की सजा सुनाई। इनके अलावा 11 अन्य लोगों को जेल की सजा दी गई है। इस हमले में 24 लोग मारे गए थे और उस समय विपक्षी पार्टी की प्रमुख रहीं शेख हसीना सहित करीब 500 लोग घायल हो गए थे।

 

हसीना इस हमले में बच गईं थीं लेकिन उनके सुनने की क्षमता को कुछ नुकसान हुआ था। जांचकर्ताओं का कहना है कि हमले का मुख्य लक्ष्य हसीना थी। हसीना हमले में घायल हो गईं थीं जबकि जबकि पार्टी की महिला मोर्चे की प्रमुख एवं पूर्व राष्ट्रपति जिल्लुर रहमान की पत्नी इवी रहमान की मौत हो गई थी।

 

 

 

 

 

Author : kapil patel
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

आपके लिए

TRENDING