loading...

गोरखपुर में अंतरराष्‍ट्रीय हॉकी मैच, भारत ने फ्रांस को 3-2 से हराया

  • 10 February,2019
  • 161 Views
गोरखपुर में अंतरराष्‍ट्रीय हॉकी मैच, भारत ने फ्रांस को 3-2 से हराया

गोरखपुर:गोरखपुर की जमीन पर पहली बार हुए हॉकी अन्तरराष्ट्रीय मैच ने भारतीय महिला हॉकी ए टीम ने फ्रांस की महिला हॉकी ए टीम को 2 के मुकाबले 3 गोल से हराकर चार मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली। रविवार को वीर बहादुर सिंह स्पोर्ट्स कॉलेज के नवनिर्मित एस्ट्रो टर्फ पर हुये मुकाबले में पहले क्वार्टर को छोड़ पूरे मैच में भारतीय टीम ने अपना दबदबा बनाये रखा।

 

हालांकि पेनल्टी कार्नर को एक बार फिर गोल में बदलने में टीम इंडिया की कमचोरी साफ दिखी। अगर टीम इंडिया मैच के दौरान मिले चार पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील करने में कामयाब रही होती तो फ्रांस के विरुद्ध जीत का अन्तर ज्यादा बड़ा होता। मैच को मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी दिखा। इसके साथ ही केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, खेल निदेशक आरपी सिंह, हॉकी इंडिया अध्यक्ष मो. मुश्ताक अहमद, एक्सीक्यूटिव डायरेक्टर कमांडर आरके श्रीवास्तव एवं गोरखपुर हॉकी एसोसिएशन के अध्यक्ष धीरज सिंह हरीश मौजूद रहें।

 

फर्स्ट क्वार्टर– पहले क्वार्टर में फ्रांस ने आक्रामक खेल का प्रदर्शन करते हुए भारतीय रक्षा पंक्ति को भेद मैच के 14 वें मिनट में पहला गोलकर भारत पर 0-1 की बढ़त बना ली।

 

सेकेंड क्वार्टर– मैच के दूसरे में हॉफ में भारतीय टीम ने पलटवार करना शुरू किया और एक के बाद एक गोल कर टीम को 2-1 की बढ़त दिला दी। दूसरे हाफ में 19 में मिनट में मारियाना कुजूर और 30 वें मिनट में सियामी लारेम ने गोल दागा

 

तीसरा क्वार्टर– तीसरे क्वार्टर में भी भारत में कई मौका पर अच्छे मूव दिखाते हुए गोल के अन्तर को बढ़ाने की। लखनऊ की मुमताज खान ने मैच के 34 वें मिनट में फ्रांस की रक्षा पंक्ति को भेदते हुए गोल कर भारत की बढ़त 3-1 कर दी

 

चौथा क्वार्टर– मैच के आखिरी क्वार्टर में टीम को पेनल्टी कॉर्नर के रूप में स्कोर 4-1 करने का मौका मिला लेकिन गेंद गोल पोस्ट से टकरा कर वापस आ गई। इसके बाद फ्रांस ने मैच के अन्तिम झणों में 58 वें मिनट में गोल कर मैच का स्कोर 3-2 कर दिया। फ्रांस की ओर से दूसरा गोल गुसजे ने किया।

 

 

 

 

 

दर्शकों और खिलाड़ियों की बढ़ती गई सांसेंं
दूसरे क्वार्टर के शुरुआती खेल में बाएं छोर से आक्रमण करते हुए भारतीय टीम ने लेफ्ट आउट के पास पर मैदानी गोल करके बढ़त बनाते हुए स्कोर तीन एक कर लिया। इसके बाद भारतीय टीम खेल पर पूरी तरह हावी रही। अधिकतर खेल फ्रांस के हाफ में खेला गया। दूसरे क्वार्टर के 12 वें मिनट में भारतीय टीम की जर्सी नंबर 4 ने रिवर्स फ्लिक से गोल करना चाहा लेकिन नाकाम रही । चौथे क्वार्टर के पहले मिनट में भारतीय खिलाड़ी जर्सी नंबर 9 के बेहतरीन मूव पर भारतीय टीम को मैच का तीसरा पेनल्टी कॉर्नर मिला लेकिन भारतीय टीम इस मौके का फायदा नहीं उठा सकी। चौथे क्वार्टर के 5वें मिनट में भारत की जर्सी नंबर 24 को गोल का अवसर मिला लेकिन चूक गई।

 

 

 

फ्रांस का बिखरा तालमेल

फ्रांस की टीम तीन एक से पिछड़ने के बाद कुछ तनाव में दिखी फ्रेंच टीम का तालमेल बिखरा-बिखरा दिखाई पड़ा । फ्रांस की टीम की जर्सी नंबर 8 में कुछ अच्छे मूव बनाए लेकिन कामयाबी नहीं मिली । इसी बीच आक्रमक खेल के आरोप में भारतीय टीम की जर्सी नंबर 13 को पीला कार्ड दिखाया गया । फ्रांस की टीम खेल के चौथे ऑफ के 11 वें मिनट में पेनलटी कार्नर अर्जित करने में कामयाब रही। दूसरी तरफ भारतीय टीम ने दाएं छोर से अच्छा मूव बनाया लेकिन फ्रांस रक्षा पंक्ति द्वारा गलत तरीके से रोके जाने पर पेनल्टी कॉर्नर मिला। लेकिन भारतीय टीम इस पेनल्टी कॉर्नर को गोल में ना बदल सकी। अच्छा मूव अच्छा था लेकिन गेंद गोल पोस्ट के बार से लड़कर वापस आ गई वरना भारत की बढ़त 4-1 से हो जाती।

 

 

 

 

 

खिलाड़ी और दर्शक असमंजस में पड़े
मैच के चौथे क्वार्टर में भारतीय टीम के पेनल्टी कॉर्नर लेते समय फ्रांस की गोलकीपर ने खुद को मैदान से बाहर कर लिया। इसके बाद फ्रांस की टीम खेलने लगी , जबकि उनकी गोलकीपर गोलपोस्ट के पीछे खड़ी नजर आई , जिस पर भारतीय कोच ने आपत्ति जताई । खेल कुछ झणों के लिए रोका गया । फिर टेक्निकल बेंच ने फ्रांस की एक खिलाड़ी को मैदान से बाहर बुलाया और फ्रांस की गोलकीपर को मैदान में खेलने के लिए बुलाया गया।

 

 

 

 

Author : Ashok Chaudhary
Loading...

Share With

You may like

Leave A Reply

Follow us on

Loading...

आपके लिए

TRENDING