J&K का स्पेशल स्टेटस का दर्जा खत्म होने के बाद पाक की बौखलाहट जारी : भारतीय राजनयिक को निकला, द्विपक्षीय व्यापार भी किया खत्म

  • Line : kapil patel
  • 07 August,2019
  • 69 Views
J&K का स्पेशल स्टेटस का दर्जा खत्म होने के बाद पाक की बौखलाहट जारी :  भारतीय राजनयिक को निकला, द्विपक्षीय व्यापार भी किया खत्म

नई दिल्ली: भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर का स्पेशल स्टेटस का दर्जा खत्म होने के बाद पाकिस्तान बौखला हुआ है | पाकिस्तान सरकार अपने उच्चायुक्त को भारत नहीं भेजगी| साथ ही पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायुक्त को पाकिस्तान से निकल दिया है|

 

 

समाचार एजेंसी एएफपी की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान सरकार ने “पाकिस्तान ने भारतीय दूत को निकल दिया,साथ ही कश्मीर पर व्यापार पर रोक लगाई दी है|

 

 

द्विपक्षीय संबंधों को कम करने और व्यापार को निलंबित करने के पाक के फैसले पर बोले सलमान खुर्शीद- नुकसान उनको झेलना है

 

पाकिस्तान सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा समिति के फैसले के बाद आज, भारत सरकार को पाकिस्तान में अपने उच्चायुक्त को वापस लेने के लिए कहा गया है। भारत सरकार को यह भी सूचित किया गया है कि पाकिस्तान अपने उच्चायुक्त को भारत नहीं भेजेगा।

 

 

इससे पहले पाकिस्तान के सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान सरकार अपने उच्चायुक्त को भारत नहीं भेजगी जो इस महीने के अंत में कार्यभार संभालेगा। पाकिस्तान भारतीय उच्चायुक्त को पाकिस्तान छोड़ने के लिए भी कह सकता है|

 

 

कश्मीर पर भारत सरकार के फैसले से बौखलाया हुआ है पाक: राजनयिक संबंधों का घटाया और द्विपक्षीय व्यापार का भी किया निलंबन

 

 

भारत सरकार के जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले को लेकर पड़ोसी देश पाकिस्तान में बवाल मचा हुआ है |वहीं  भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के बाद पाकिस्तान पीएम इमरान खान ने आज यानी बुधवार को इस्लामाबाद में प्रधान मंत्री कार्यालय में राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक की अध्यक्षता की| राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक में फैसला लिया गया है भारत से राजनयिक संबंध को भी घटा लिया जाए इसके साथ भारत के साथ उसने द्विपक्षीय व्यापार को भी निलंबित कर दिया जाए|

 

 

पाकिस्तान राष्ट्रीय सुरक्षा समिति ने निम्नलिखित कार्रवाई करने का फैसला किया..

 

1. भारत के साथ राजनयिक संबंधों का उन्नयन।

2. भारत के साथ द्विपक्षीय व्यापार का निलंबन।

3. द्विपक्षीय व्यवस्था की समीक्षा

 

 

 

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले को लेकर पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान ने कल यानी मंगलवार को कहा था कि, हम कश्मीर के मामले को संयुक्त राष्ट्र (UN) में ले जाएंगे.

 

 

पाकिस्तान संसद के संयुक्त सत्र में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि, हम कश्मीर के मामले को संयुक्त राष्ट्र (UN) में ले जाएंगे| उन्होंने आगे कहा कि, भाजपा की जातिवादी विचारधारा के तहत भारत में अल्पसंख्यकों के उपचार के अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को अवगत कराएंगे।

 

 

भारत द्वारा अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर को दिए गए विशेष दर्जे को वापस लिए जाने के खिलाफ पाकिस्तानी संसद के संयुक्त सत्र में मंगलवार को एक प्रस्ताव पेश किया गया था| सत्र की शुरुआत पाकिस्तान के संसदीय मामलों के संघीय मंत्री आजम खान स्वाती ने कश्मीर घाटी में भारतीय कदम की निंदा करते हुए एक प्रस्ताव पेश किया|

 

 

सत्र के एजेंडे में अनुच्छेद 370 में संशोधन से संबंधित एक खंड को न जोड़े जाने को लेकर विपक्ष ने विरोध जताया, जिसके लिए सत्र को 20 मिनट के लिए स्थगित करना पड़ा. विपक्ष के हंगामे के बाद सीनेटर स्वाती ने सदन के समक्ष संशोधित प्रस्ताव पेश किया, जिसमें अनुच्छेद 370 का उल्लेख था|

 

 

 

बता दें कि मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटाया है| इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर को मिला विशेष राज्य का दर्जा भी खत्म हो है|वहीं, इसके अलावा जम्मू कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में भी बांटा गया है|अब जम्मू कश्मीर और लद्दाख दो केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाएंगे|

 

 

ऐतिहासिक फैसले ने देश के राज्यों की संख्या घटा दी| इसी के साथ केंद्रशासित राज्यों की संख्या बढ़कर सात से नौ हो गई| लद्दाख बिना विधानसभा का केंद्रशासित प्रदेश होगा|लद्दाख में चंडीगढ़ की तरह से विधानसभा नहीं होगी| जम्मू -कश्मीर डिवीजन विधान के साथ एक अलग केंद्र शासित प्रदेश होगा जहां दिल्ली और पुडुचेरी की तरह विधानसभा होगी. इस तरह से देश में केंद्र शासित राज्यों की संख्या 7 से बढ़कर 9 हो गई है|

 

 

 

आपके लिए

You may like

Follow us on

आपके लिए

TRENDING